बाली में घूमने की जगह. Baali me ghumne ki jagah

प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण बाली इंडोनेशिया का एक प्रसिद्ध दार्शनिक स्थल है। जो कि अपनी संस्कृति एवं परंपराओं के साथ-साथ एक धार्मिक स्थल के रूप में जगह बनाया हुआ है। आज के इस लेख के माध्यम से हम आपको बाली में घूमने की जगह ( Baali Me Ghumne Ki Jagah ) के बारे में जानकारी देने वाले हैं। यदि आप लोग किसी खूबसूरत द्वीप में यात्रा करने की प्लानिंग बना रहे हैं तो हम आपको सजेस्ट करेंगे कि आप बाली में घूमने जरूर जाएं। आपकी बाली यात्रा को मध्य नजर रखते हुए हम आपको बाली घूमने का सबसे अच्छा समय ( Baali Ghumne Ka Samay )एवं बाली में रुकने के लिए होटल( Baali Me Rukne Ke Liye Hotel ) के बारे में भी जानकारी देने वाले हैं। इसलिए इस लेख को अंत तक जरूर पढ़ना।

बाली के बारें में. Baali ke Baren Me in Hindi

बाली प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण एक दीप है जोकि इंडोनेशिया के अंदर आता है। जावा द्वीप की पूर्व में स्थित बाली समुद्र की रोमांस गतिविधियों के लिए प्रसिद्ध है। सांस्कृतिक परंपराओं के साथ-साथ यहां के रीति रिवाज एवं रहन सहन बाली को बहुत खास बनाती है। जहां यह जगह प्राकृतिक सौंदर्य की एक अनूठी मिजाज है उसी तरीके से यह एक धार्मिक अनुष्ठान के लिए भी जाना जाता है। पिकनिक एवं रोमांस की गतिविधियों के साथ-साथ यहां पर पवित्र धार्मिक स्थल भी है जोकि एक टूरिस्ट प्लेस के रूप में भी पहचाने जाते हैं।

खूबसूरत वातावरण और मंत्रमुग्ध कर देने वाले यहां की आवोहवा वर्ष भर में लाखों पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है। यदि आप लोग अपने फैमिली के साथ यात्रा करने के लिए अच्छी जगह की तलाश में है तो बाली को अपनी यात्रा सूची में जरूर शामिल करें। वैसे पिकनिक एवं एडवेंचर के लिए बाली दोस्तों के साथ ज्यादा करने के लिए एक अच्छी जगह है।

बाली में घूमने की जगह. Baali Me Ghumne Ki Jagah

पुरा बैसाकी मंदिर

बाली के पर्यटन स्थलों ( Tourist Attraction of Baali ) में पुरा बैसाकी मंदिर सबसे प्रसिद्ध जगह में से एक है। आस्था और भक्ति का प्रतीक यह मंदिर प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण है । 2000 साल से हिंदू तीर्थ स्थान के रूप में यह मंदिर जानी जाती है। मान्यता के अनुसार इस मंदिर को नौ विशेष मंदिरों में से एक माना जाता है।

मंदिर के बारे में बताया जाता है कि इस मंदिर का नाम ड्रैगन भगवान के नाम पर रखा गया है। पौराणिक कथाओं के अनुसार लगन भगवान गुनुंग अगुंग पर्वत पर निवास किया करते थे।

हर साल हजारों भक्तों को आकर्षित करती यह मंदिर त्रिमूर्ति की एक समूह मंदिरों में से एक है। यदि आप भी बाली घूमने का प्लान बना ( Baali Ghumne Ka Plan ) रहे हैं तो आपको अपनी यात्रा श्रेणी में पुरा बैसाकी मंदिर को जरूर शामिल करना चाहिए।

उलुवातु मन्दिर

बाली के प्रसिद्ध मंदिरों में ( Famous Temple of Bali ) उलुवातु मन्दिर विशेष स्थान पर आता है ‌ प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण उलुवातु मन्दिर नदी के किनारे बसे चट्टान के ऊपर स्थापित है। इसीलिए इस मंदिर का नाम अउलुवातु मन्दिर रखा गया इसका सीधा सा अर्थ भूमि के किनारे चट्टान पर स्थित होता है। मंदिर के निर्माण विषय में बताया जाता है कि मंदिर का निर्माण लगभग 10 फ़ीसदी में किया गया था। बताना चाहेंगे कि इस मंदिर में केवल हिंदू उपासकों को ही प्रवेश मिलता है। मंदिर देव को बुरी शक्तियों से बचाने में मदद करता है। यदि आप भी बाली की यात्रा का प्लान बना ( Baali Ghume ka Plan ) रहे हैं तो आपको उलुवातु मन्दिर के दर्शन जरूर करने चाहिए।

पुरा तनाह लोट

समुद्र के किनारे में बसा एक खूबसूरत ही जगह है जो कि हजारों पर्यटकों को अपनी ओर आकर्षित करती है पुरा तनाह लोट के नाम से जानी जाती है। बाली के मंदिरों इस जगह का नाम उचित स्थान रखता है। खूबसूरत चट्टान के ऊपर बना हुआ यह मंदिर 16 वीं सदी में बनाया गया था। मंदिर के निर्माण विषय में बताया जाता है कि समुद्र के देवताओं को सम्मान देने के लिए चट्टान पर मंदिर का निर्माण किया गया।

खूबसूरत वास्तुकला जिसमें हिंदू एवं बाली संस्कृति का अंग देखने को मिलता है। मंदिर के आसपास का वातावरण काफी मनमोहक एवं शांत है आप चाहे तो यहां पर 2 से 3 घंटे आराम से बिता सकते हैं। मंदिर में प्रवेश करने के दौरान आपको रास्ते में बहुत से विक्रेता वस्तुओं को बेचते हुए दिखाई देंगे। बाली की एक हफ्ता यात्रा के दौरान आप इस जगह का आनंद जरूर लें।

नुसा आईलैंड

बाली के दक्षिणी पूर्वी विस्तार में फैला हुआ यह नुसा आईलैंड तीन द्वीप का एक समूह है । एक शांत जगह और समुद्री लहर की प्यारी सी आवाज आप को अपनी और आकर्षित करने वाली है। दोस्तों के साथ पार्टी एवं पिकनिक स्पॉट के लिए यह एक अच्छी जगह है।

समुद्र के किनारे से आप प्राकृतिक सौंदर्य के साथ दूर-दूर तक समुद्री लहरों को देखने का आनंद ले सकते हैं। वैसे बताना चाहेंगे कि इस जगह पर कम भीड़भाड़ रहती है। इसलिए आप चाहें तो यहां पर अपने फैमिली के साथ भी यात्रा के लिए आ सकते हैं।

एक शांत जगह एवं शांत वातावरण होने के कारण आप यहां पर आसानी से दो से 3 घंटे आराम से बिता सकते हैं। अपने मनोरंजन की गतिविधियों को और अधिक बढ़ाने के लिए आप मैगी पार्टी एवं आउटसाइड फूड मेकिंग एक्टिविटीज का आनंद ले सकते हैं। इसके अलावा यदि आप समुद्र में घूमने की कोशिश करते हैं तो आप किराए पर एक साइकिल भी ले सकते हैं इसकी सहायता से आप एक छोर से दूसरी ओर आराम से जा सकते हैं।

पुरा उलुन दानु बरतन

बाली के सबसे खूबसूरत जगह ( Baali ki Khubsurat Jagah ) की श्रेणी में पुरा उलुन दानु बरतन कौन जगह में से एक है जहां पर बाली आए हर एक पर्यटक घूमने की चाह रखता है। ब्रिटेन झील के पास स्थित यह जगह 17 वी शताब्दी से एक मंदिर के रूप में प्रसिद्ध है। प्रकृति के मनमोहक दृश्य और मंत्रमुग्ध कर देने वाली इसकी आबोहवा इस जगह को बहुत खास एवं आपकी यात्रा पर चार चांद लगाने वाली है।

मंदिर की पृष्ठभूमि में माउंट गुनुंग ब्राटन झील स्थित है जिसमें मंदिर का खूबसूरत सा प्रतिबिंब दिखाई देता है। इस झील में पर्यटक पैरासेलिंग एवं नौका विहार के साथ जेट स्किइंग का आनंद भी ले सकते हैं। सामने दिख रही खूबसूरत से पहाड़ आप को अपनी ओर आकर्षित करते हैं अब चाहे तो इन पहाड़ों में अपने दोस्तों के साथ ट्रैकिंग का आनंद भी नहीं सकते हैं।

बाली घूमने का समय. Baali Ghumne ka Samay

दोस्तों यदि बाली घूमने का समय के बारे में बात करें तो आपको बताना चाहेंगे कि वैसे तो जब कभी भी आपके पास छुट्टियां हो आप अपनी यात्रा क्या प्लान बना सकते हैं। लेकिन समय एवं सीजन के हिसाब से बाली घूमने का सबसे अच्छा समय ( Baali Ghumne Ka Samay )के बारे में बात करें तो बाली घूमने का सबसे अच्छा समय अगस्त से अक्टूबर माह के बीच माना जाता है। क्योंकि इस समय के बीच आप यहां पर पानी से जुड़े विभिन्न प्रकार की गतिविधियां कर सकते हैं। आप अपनी यात्रा प्लेन को कुछ समय पहले ही तैयार कर ले ताकि आप अपनी यात्रा का अच्छे से आनंद ले पाए।

बाली में रुकने के लिए होटल. Baali Me Rukhne Ke Liye Hotel

दोस्तों यात्रा के दौरान आपको बाली में कुछ दिन रुकना पड़ सकता है इसलिए हम आपको कुछ ऐसे होटल के बारे में जानकारी दे रहे हैं । जो कि बाली के सबसे सस्ते होटल की लिस्ट में आते हैं। इन होटलों में आपको मूलभूत सभी सुविधाएं मिल जाती हैं। और सबसे अच्छी बात यह भी है कि आप इन होटलों को ऑनलाइन भी बुक कर सकते हैं।

लेकिन दोस्तों हम आपको एक बात बताना चाहते हैं कि आप अपनी यात्रा से कुछ दिन पहले यानी कि 15 से 20 दिन पहले ही होटल की बुकिंग करना सुनिश्चित कर ले । ताकि जब कभी भी आप यात्रा करो तो आप होटल की सुविधाओं से वंचित ना रह जाए। इसलिए होटल की बुकिंग यात्रा से कुछ दिन पहले जरूर करें।

  • ग्रांडमास प्लस होटल
  • क्वेस्ट होटल सन
  • द कुबू होटल
  • मिम्पी कॉटेज
  • ओडिका लविना हाउस

Leave a Comment

Chat For Book Trip